Skip to content Skip to footer

मनुष्य के चन्द्रमा के नवांश के अनुसार होता है। लग्ननवांश के अनुसार शरीर की आकृति होती है और चन्द्रमा जिस नवांश में होता है, उसके अधिपति के अनुसार जातक का रंग होता है।

  • चन्द्रमा यदि सूर्य के नवांश में हो तो श्यामवर्ण होगा ।
  • चन्द्रमा यदि चन्द्रमा के नवांश में हो तो गोरवर्ण होगा ।
  • चन्द्रमा यदि मंगल के नवांश में हो तो रक्त-गोर-वर्ण (जिसे लाली गोराई कहते हैं) होगा।
  • चन्द्रमा यदि बुध के नवांश में हो तो श्यामवर्ण होगा ।
  • चन्द्रमा यदि बृहस्पति के नवांश में हो तो तप्तकाञ्चन वर्ण होगा।
  • चन्द्रमा यदि शुक्र के नवांश में हो तो श्यामवर्ण परन्तु चित्ताकर्षक होगा।
  • चन्द्रमा यदि शनि के नवांश में हो तो रंग काला होगा ।
  • रवि लग्न में हो तो ताम्र वर्ण होगा।
  • चन्द्रमा लग्न में रहने से गौरवर्ण होगा।
  • मंगल लग्न में हो तो रक्त-गौर-वर्ण होगा।
  • बुध लग्न में हो तो साफ श्यामवर्ण होगा अर्थात् काला नहीं होगा।
  • बृहस्पति लग्न में हो तो काञ्चनवणं और अत्यन्त चित्ताकर्षक होगा।
  • शुक्र लग्न में हो तो रंग गोरा न होगा पर चित्त को आकर्षित करने वाला होगा।
  • शनि लग्न में हो तो काला वर्ण होगा।

Add Comment

en_USEN